इंडिया गठबंधन के नेताओं ने स्मृति ईरानी को घेरा -बोले - धर्म का राग अलापना छोड़ अमेठी के विकास पर बात करे स्मृति ईरानी

जनहित के पांच स्वालों का ज़बाब मांगा-फ्लॉप मंत्री करार दिया

मई 12, 2024 - 20:24
इंडिया गठबंधन के नेताओं ने स्मृति ईरानी को घेरा -बोले - धर्म का राग अलापना छोड़ अमेठी के विकास पर बात करे स्मृति ईरानी

द स्वार्ड ऑफ इंडिया

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव योगेंद्र मिश्रा,अमेठी ज़िला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रदीप सिंघल,कांग्रेस प्रवक्ता अनिल सिंह,राम उदित यादव जिलाध्यक्ष समाजवादी पार्टी, हरिशंकर जायसवाल जिलाध्यक्ष आम आदमी पार्टी,अशरफ जायसी आप सह -संयोजक उत्तर प्रदेश, प्रियंक हरी विजय तिवारी,सपा पूर्व प्रत्याशी गौरीगंज विधानसभा क्षेत्र ने आज एक संयुक्त ब्यान में स्मृति ईरानी पर तीखा जुबानी हमला बोला। उन्होंने कहा कि 

स्मृति ईरानी हार सामने देख डर गई हैं और अमेठी के विकास के मुद्दों से भाग रही हैं।उनका जिक्र करने से घबरा रही हैं। अगर ऐसा नहीं है तो फिर स्मृति ईरानी अपने भाषणों में गांधी परिवार का ही नाम जप क्यों कर रही हैं।

धर्म का सहारा क्यों ले रही हैं।जनता जिन प्रश्नों का उनसे जबाब चाहती है उससे क्यों भाग रही हैं?उन्होंने कहा कि भाजपा प्रत्याशी बताएं कि ट्रिपल आईटी अमेठी को क्यों नहीं मिला?रेलवे नीर प्लांट कहां गायब हो गया?

 हिंदुस्तान पेपर मिल क्यों स्थापित नहीं हुई? ऊंचाहार - अमेठी - शाहगंज को जोड़ने वाली रेलवे लाइन को किसने निरस्त किया? इंडिया गठबंधन के नेताओं ने कहा कि आज बेरोगार नौजवान ज़बाब चाहता है कि रोजगार क्यों नहीं मिला? संजय गांधी अस्पताल को बंद करने की साजिश किसने रची थी?

 आज यह ज्वलंत प्रश्न हैं जिनका ज़बाब अमेठी की जनता चाहती है। उन्होंने कहा कि स्मृति ईरानी ज़बाब नहीं से सकती क्योंकि उनका पांच साल बतौर केंद्रीय मंत्री का कार्यकाल फ्लॉप साबित हुआ।पांच सालों में बार बार उनके मंत्रालय बदलते रहे।

अमेठी के विकास के लिए वह एक भी बड़ी योजना लाने में नाकामयाब रहीं। गठबंधन नेताओं ने दावा किया कि चार जून को चुनाव परिणामों के बाद स्मृति ईरानी पराजय का सामना करेगी।अमेठी की जनता अब भाजपा की जुमलेवाजी को समझ चुकी है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow