अवैध मिट्टी खनन पर नहीं लग रही लगाम मिट्टी खनन माफियाओं के हौसले बुलंद

कि उन्हे योगी सरकार का तनिक भी भय नहीं है

मार्च 3, 2024 - 18:56

द स्वार्ड ऑफ इंडिया

 मसौली संवाददाता रिजवान अहमद

मसौली बाराबंकी । क्षेत्र मे अवैध तरीके से मिट्टी का खनन बदस्तूर जारी है । खादी और खाकी के संरक्षण मे खनन माफिया इतने मनबढ है कि उन्हे योगी सरकार का तनिक भी भय नहीं है ।

 वहीं थाना और प्रशासन के अधिकारी खनन रोकने के नाम पर यदा - कदा छापेमारी करके एक दो ट्रैक्टर ट्राली सीज करके मात्र फर्ज अदायगी भर कर लेते हैं ।

 थाना सफदरगंज अन्तर्गत थाने के सामने कुढीपुरवा, अम्बौर, सोहरआबाद , रामपुर ,रहरामऊ, तथा अम्बौर तथा अम्बौर सीमा पर तहसील राम सनेहीघाट थाना जैदपुर के अमेठियन पुरवा आदि कई स्थानों पर खनन माफिया पूरे जोर शोर से सक्रिय है । अंधेरा होते हीं खनन का कारोबार पूरे शबाब पर होता है । जे सी बी ,और डोलो करहा-ट्रैक्टर खदान पर तथा डम्पर और ट्रैक्टर ट्राली सड़क पर दौड़ने लगते हैं ।

 सफदरगंज थाने के सामने कुढी पुरवा मे मनीष कुमार रावत के खेत मे डोलो -करहा से चैनल लगा कर सैकड़ो डम्पर मिट्टी का खनन किया गया है । अम्बौर मे सुरेश यादव के खेत से बड़े पैमाने पर खनन किया गया है ।

 रामपुर, रहरामऊ तथा अम्बौर बॉर्डर पर थाना जैदपुर अन्तर्गत अमेठियन पुरवा मे कल्याणी नदी की सरकारी जमीन पर मिट्टी का अवैध खनन धड़ल्ले से जारी है । थाना जैदपुर के ग्राम इन्धौलिया के पूरब प्रतापगंज रजबहा की पल्हरी माइनर पर पड़ी सैकड़ो ट्राली सिल्ट जैदपुर के एक ट्रैक्टर-ट्राली संचालक अवैध तरीके से उठाकर बेच लिए। अब नहर विभाग के अधिकारी उक्त ट्राली संचालक अमित गुप्ता के खिलाफ जांच कर रहे हैं ।

जानकार सूत्र बताते हैं कि जनसेवा केन्द्र से काश्तकार को अपने खेत से सौ घन फुट मिट्टी खुदवाने का परमिट आसानी से एक घंटे के अंदर मिल जाता है । खनन माफिया इसका पूरा लाभ उठाते हैं तथा एक हीं खेत से मिट्टी खुदाई का दर्जनों बार परमिट बनवाकर साल के बारौ महिना रातों दिन निरंतर खनन कराते रहते हैं । सूत्र बताते हैं कि जन सेवा केन्द्र से परमिट बनवाने के बाद खनन के कारोबार से जुड़े लोगों को एक दिन का प्रति ट्राली दो हजार से पच्चीस सौ रूपये स्थानीय पुलिस को देने होते हैं । 

 उल्लेखनीय है कि जन सेवा केंद्र से बनने वाले परमिट मे हल्का लेखपाल और कानूनगो की कोई रिपोर्ट तक नहीं लगती है । इसका फायदा खनन माफिया जमकर उठाते हैं । ताज्जुब तो यह है कि एक हीं गाटा संख्या पर खुदाई कराने के लिए बार बार परमिट बनते रहते हैं किन्तु राजस्व विभाग और खनन विभाग इस पर आखें बन्द किये रहता है ।

जनता द्वारा अवैध खनन की सूचना पर पुलिस अधिकांशतः तवज्जो हीं नही देती है।और अगर सुन भी लिया तो मामला जैसे तैसे निपटा देती है । खनन अधिकारी तो कभी फोन उठाना हीं मुनासिब नहीं समझते हैं ।   

गत 26 फरवरी की रात करीब 11 बजे थाना सफदर गंज के ग्राम रसौली मे आबादी के पश्चिम शिव मंदिर के पीछे ग्राम समाज के भिट्ठे पर जे सी बी से खुदाई करके ट्रैक्टर ट्रालियों से मिट्टी ले जायी जा रही थी । ग्रामीणों ने सफदरगंज पुलिस को सूचना दी । पुलिस मौके पर आयी लेकिन केवल खुदाई रूकवा कर वापस चली गई। पुनः उक्त स्थल पर 28/29 फरवरी को पूरी रात मिट्टी का अवैध खनन चालू रहा । उक्त भिठ्ठे पर 01 फरवरी की रात दस बजे जब पुनः खनन शुरू हुआ तो ग्राम वासियों ने पुलिस अधीक्षक और एस डी एम नवाबगंज को फोन पर सूचित किया ।इसके बाद थाना पुलिस व राजस्व विभाग का कोई अधिकारी तो मौके पर नही आया किन्तु अवैध खनन तत्काल बंद हो गया !

 जेसीबी और आधा दर्जन ट्रैक्टर ट्रालियां मौके से आनन -फानन भाग गई। ग्रामीणों ने तहसील के समाधान दिवस पर प्रार्थनापत्र प्रस्तुत करके दोषियों के विरूद्ध कठोर वैधानिक कार्रवाई की मांग की है ।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow