मणिपुर में 2 महिलाओं को निर्वस्त्र नग्न घुमाया गया और वीडियो बनाई गई

प्रधानमंत्री बोले 140 करोड़ भारतीयों को शर्मसार होना पड़ा किसी भी गुनहगार को नहीं छोड़ेंगे

जुलाई 21, 2023 - 11:19
जुलाई 21, 2023 - 18:50
मणिपुर में 2 महिलाओं को निर्वस्त्र नग्न घुमाया गया और वीडियो बनाई गई

समाचार एजेंसी

इंफाल । मणिपुर में जारी तनाव के बीच एक बहुत ही शर्मसार कर देने वाली खबर सामने आई है, यहां से दो महिलाओं को निर्वस्त्र कर के भीड़ द्वारा सडक़ पर घुमाया गया है। कबकी इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर चल रहा है यह घटना 4 मई की बताई जा रही है।

 इस मामले को लेकर 18 मई को कांगपोकपी जिले में जीरो एफआईआर दर्ज की गई। जबकि चौंकादेने वाली बात यह है कि पुलिस द्वारा दर्ज की गई fir में अज्ञात सशस्त्र बदमाशों के खिलाफ दर्ज की गई है।

महिलाओं को नग्न सड़क पर घुमाने के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वीडियो को देखकर हम बहुत परेशान हुए हैं। हम सरकार को वक्त देते हैं कि वो सख्त कदम उठाए। वरना हमको बहुत ही सख्त कदम उठाना पड़ेगा।

 वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस घटना ने 140 करोड़ भारतीयों को शर्मसार किया है। किसी भी गुनहगार को बख्शा नहीं जाएगा। मणिपुर पुलिस ने किडनैपिंग, गैंगरेप और हत्या का मामला दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

बाकियों की तलाश जारी है। मणिपुर सीएम एन बीरेन सिंह ने कहा है कि हम सभी आरोपियों की मौत की सजा दिलाने के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे। दरअसल, मणिपुर इन दिनों जातीय हिंसा की चपेट में है, लेकिन अब एक video को लेकर मणिपुर के पहाड़ी एरिया में तनाव फैल गया है।

 जिसमें दो निर्वस्त्र महिलाओं को नग्न करके घुमाया जा रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, यह वीडियो 4 मई का है तथा दोनों महिलाएं कुकी समुदाय से हैं, महिलाओं को निर्वस्त्र घुमाने वाले व्यक्ति मैतई समाज के बताए गए हैं ।

आदिवासी संगठन इंडिजिनस ट्राइबल लीडर्स फोरम ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। मेरा दिल पीड़ा और क्रोध से भरा है: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा मेरा दिल आज पीड़ा क्रोध और पीड़ा से भरा है। ये घटना किसी भी सभ्य समाज के लिए बहुत ही शर्मसार करने वाली घटना है। 

मणिपुर की बेटियों के साथ जो हुआ, उसे कभी माफ नहीं किया जा सकता यह पूरे देश के लिए शर्म की बात है और पूरे देश की बेज्जती हैं उन्होंने कहा कि मैं सभी मुख्यमंत्रियों से कहता हूं कि कानून-व्यवस्था को मजबूत करें। माताओं-बहनों ( महिलाओं )की रक्षा के लिए सख्त कदम उठाएं।

 हिंदुस्तान के किसी भी कोने या किसी भी राज्य में राजनीतिक वाद-विवाद से ऊपर उठकर कानून-व्यवस्था और बहनों का सम्मान प्राथमिकता है। यह संविधान का सबसे घृणित अपमान: सुप्रीम कोर्ट सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और मणिपुर सरकार से पूछा है कि अपराधियों पर कार्रवाई के लिए आपने क्या कदम उठाए हैं।

सीजेआई ने कहा कि सांप्रदायिक संघर्ष के दौरान महिलाओं का एक हथियारा की तरह इस्तेमाल करना कभी स्वीकार नहीं किया जा सकता है। यह संविधान का सबसे घृणित अपमान है। मामले में अगली सुनवाई शुक्रवार को होगी। मैतेई लोगों की हत्या का दावा महिलाओं का वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है।

 इसमें कई लोगों के शव भी दिखाई दे रहे हैं। पोस्ट करने वाले व्यक्ति ने दावा किया है कि ये वीडियो जून माह का है, जब कुकी समुदाय ने सुगनू इलाके के आसपास मैतेई गांवों में लोगों की हत्या की थी।

 सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो की पुलिस ने अभी तक पुष्टि नहीं की है। Video शेयर करने वाले व्यक्ति ने देश के तमाम मीडिया हाउसो केंद्रीय मंत्रियों एवम मणिपुर के मुख्यमंत्री को भी टैग किया है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow